5 जून को हिन्‍दू स्‍वाभिमान दिवस के रूप में मनाया जाएगा सीएम योगी का जन्‍मदिन, घरों पर फहराएगा केसरिया

नई दिल्ली. उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ का जन्मदिन 5 जून को आने वाला है. इस बार विश्व हिंदू महासंघ ने सीएम योगी का जन्मदिन हिंदू स्वाभिमान दिवस के रूप में मनाने का ऐलान किया है.

सीएम योगी खुद तो अपना जन्मदिन नहीं मनाते लेकिन बीजेपी, हिंदूवादी संगठन और उनके समर्थक हर साल इसे मनाते हैं.

ये भी पढ़ें : मुकेश अंबानी की रिलायंस ने किया कमाल, बना डाली चीन से 3 गुना सस्ती और हाई क्वालिटी की PPE किट

उत्तर प्रदेश राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के सदस्य और विश्व हिंदू महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष भिखारी प्रजापति ने बताया कि विहिम कार्यकर्ता पांच जून को अपने घर, आस-पड़ोस, गली-मोहल्ले, गांव, वार्ड में हिन्दू स्वाभिमान के रूप में केसरिया ध्वज फहराएंगे. इसके साथ ही हवन, पूजन कर सीएम योगी के स्‍वास्थ्‍य और लंबी आयु की कामना की जाएगी.

खुद अपना जन्‍मदिन नहीं मनाते हैं सीएम योगी

बता दें कि यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ खुद अपना जन्मदिन नहीं मनाते हैं. उनके समर्थक और प्रशंसक हालांकि उहें जन्मदिन की शुभकामनाएं भेजते हैं. सीएम योगी का जन्म 5 जून 1972 को उत्तराखंड के पौड़ी गढ़वाल जिले में पड़ने वाले छोटे से गांव पंचुर में हुआ था.

ऐसा है सीएम योगी का परिवार

सीएम योगी के पिता आनन्द सिंह बिष्ट फॉरेस्ट रेंजर थे, जिनका हाल ही निधन हुआ है. उनकी माता का नाम सावित्री देवी है. अपनी माता-पिता की सात संतानों में तीन बड़ी बहनों और एक बड़े भाई के बाद योगी आदित्‍यनाथ पांचवें थे. उनसे छोटे दो भाई हैं.

ऐसा रहा करियर

गढ़वाल विश्वविद्यालय से गणित में बीएससी करने वाले योगी आदित्यनाथ सबसे कम उम्र के सांसद बनने वाली लिस्ट में भी शामिल हैं. गोरखपुर के गोरक्षपीठाधीश्वर महंत अवेद्यनाथ ने उन्हें अपना उत्तराधिकारी घोषित किया था. योगी आदित्यनाथ 1998 में पहली बार चुनाव लड़े और सांसद चुनकर संसद पहुंचे. उस वक्त उनकी उम्र मात्र 26 साल थी.

इसके बाद योगी आदित्यनाथ 1999, 2004, 2009 और 2014 में भी लगातार सांसद चुने जाते रहे. सितंबर 2014 में उनके गुरु महंत अवेद्यनाथ के समाधि लेने के बाद वह गोरक्षपीठाधीश्‍वर बने. योगी आदित्यनाथ हिंदू युवा वाहिनी के संस्थापक भी हैं. हिन्दू युवा वाहिनी एक सामाजिक, सांस्कृतिक और राष्ट्रवादी समूह है.