चन्नी ने प्रियंका गांधी को दी पीएम सुरक्षा चूक की जानकारी, भड़की बीजेपी

डेस्क: पंजाब के फिरोजपुर में पीएम मोदी की सुरक्षा में हुई चूक (PM Modi Security Breach) का मामला और गरमा गया है। पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी (Charanjit Singh Channi) ने यह कहकर विवाद खड़ा कर दिया है कि उन्होंने कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) को प्रधानमंत्री की सुरक्षा चूक के मुद्दे पर जानकारी दी थी।

दरअसल जब उनसे (Charanjit Singh Channi) पूछा गया कि क्या उन्होंने गांधी परिवार के साथ प्रधानमंत्री की सुरक्षा उल्लंघन (PM Modi Security Breach) के मुद्दे पर चर्चा की थी। इस पर जवाब देते हुए पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी ने कहा, “मैंने आपको पहले ही बताया था कि मैंने प्रियंका गांधी से बात की थी और यहां जो कुछ भी हुआ था उसे बताया था।”

उन्होंने कहा, “मैं फिर से कह रहा हूं कि प्रधानमंत्री को कोई खतरा नहीं था। ऐसा कभी नहीं होगा। वह बहुत सुरक्षित थे और सुरक्षा से घिरे हुए थे। कोई भी उनके करीब नहीं आया और न ही उन पर एक पत्थर फेंका गया।”

अब इस पर भारतीय जनता पार्टी ने पंजाब के मुख्यमंत्री से स्पष्टीकरण मांगा है कि उन्होंने प्रियंका गांधी वाड्रा को किस हैसियत से जानकारी दी, क्योंकि उनके पास कोई संवैधानिक पद नहीं है।

बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा (Sambit Patra) ने एक ट्वीट में पूछा, “एक मौजूदा सीएम ने प्रियंका वाड्रा को पीएम की सुरक्षा के बारे में जानकारी दी! क्यों? प्रियंका के पास कौन सा संवैधानिक पद है कि उन्हें पीएम की सुरक्षा के बारे में बताया गया है।”

बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता ने सुरक्षा उल्लंघन को राष्ट्र के खिलाफ एक साजिश करार दिया है। बता दें की सुरक्षा चूक के मामले में नाकाबंदी की जिम्मेदारी लेने वाले किसान नेताओं के बावजूद, अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है।

पात्रा ने पूछा, “चन्नी सरकार ने 18 घंटे तक प्राथमिकी दर्ज नहीं की और बाद में अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया। जब पुलिस उनके साथ चाय की चुस्की ले रही थी तो वे कैसे अज्ञात हो गए, क्या सुरक्षा उल्लंघन की कीमत सिर्फ 200 रुपये का जुर्माना है।”

हालांकि इस मामले में जांच का आदेश के देने बावजूद पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी यह कहते रहे कि प्रधानमंत्री की सुरक्षा में कोई चूक नहीं हुई है। कांग्रेस नेता इसे फिरोजपुर रैली स्थल पर मौजूद कम भीड़ के साथ जोड़ने की कोशिश कर रहे हैं।

वहीं विपक्ष शिरोमणि अकाली दल ने चरणजीत सिंह चन्नी सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि राज्य में कानून-व्यवस्था पूरी तरह चरमरा गई है। पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा था कि सुरक्षा चूक स्पष्ट रूप से बताता है चन्नी सरकार चलाने में सक्षम नहीं हैं।

Leave comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *.