बिहार के पूर्व सांसद पप्पू यादव का विलय को लेकर बड़ा ऐलान, कांग्रेस नेता राहुल गांधी को बताया बेहतर

नई दिल्ली: जन अधिकार पार्टी (जाप) के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव ने कहा है कि 2024 का लोकसभा और 2025 का विधानसभा चुनाव बिहार की दिशा और दशा को तय करेगा। जाप अपने समान विचारधारावाली पार्टी के साथ गठबंधन या विलय करेगी। इसका फैसला पार्टी के सभी नेता व कार्यकर्ता मिल-जुलकर करेंगे।

आदिति कम्युनिटी सेंटर में आयोजित राज्य कार्यकारिणी की बैठक को संबोधित करते हुए पप्पू ने कहा कि हमारे लिए कार्यकर्ता और विचारधारा महत्वपूर्ण हैं। पार्टी का कार्यकर्ता ही हमारी पूंजी हैं। इस दौरान उन्होंने कांग्रेस पार्टी की तारीफ करते हुए राहुल गांधी में देश संभालने की क्षमता की बात कही।

पूर्व सांसद पप्पू यादव ने कहा कि जाप परिवार के सभी कार्यकर्ता बिहार में बदलाव की लड़ाई लड़ रहे हैं। राज्य में चल रहे हरएक संघर्षों में अग्रिम भूमिका का निर्वहन कर रहे हैं। देश के हालात अच्छे नहीं हैं। किसान से लेकर नौजवान तक सड़कों पर संघर्ष कर रहे हैं। भाजपा और संघ के लोग देशवासियों को जाति और धर्म के आधार पर बांट कर राजनीति कर रहे हैं।

कांग्रेस सबको लेकर चल सकती है साथ

पप्पू ने कहा कि इस परिस्थिति में कांग्रेस ही एक ऐसी पार्टी है जो सबको साथ लेकर चल सकती है। राहुल गांधी में सबको साथ लेकर देश को आगे बढ़ाने की क्षमता है। कांग्रेस के नेतृत्व में ही देश में एक मजबूत विपक्ष तैयार हो सकता है।

पप्पू यादव ने कहा कि सभी जिलों में जन अधिकार पार्टी के समर्थित नेता व कार्यकर्ताओं ने इस पंचायत चुनाव में मुखिया और जिला परिषद का चुनाव जीता है। इस इलेक्शन में पूर्व के सभी जनप्रतिनिधि चुनाव हार गए हैं। लालू यादव की बहू और गोपाल मंडल का परिवार चुनाव हार गया। हमारे कार्यकर्ताओं की जीत से स्पष्ट है कि हमें जनता का समर्थन है।

पप्पू ने कहा, राज्य कार्यकरिणी की बैठक को कार्यकारी अध्यक्ष अखलाक अहमद, राष्ट्रीय प्रधानमहासचिव रघुपति सिंह, प्रदेश अध्यक्ष राघवेंद्र कुशवाहा, प्रधानमहासचिव प्रेमचन्द सिंह, भाई दिनेश, राजेश रंजन पप्पू ने संबोधित किया।

कार्यक्रम की अध्यक्षता राघवेंद्र कुशवाहा ने की मौके पर फाजिल अहमद, गुरुमीत सिंह, मनोज वाजपेयी, सत्येंद्र पासवान, राजू दानवीर, पूनम झा, गुड्डू सिंह, गौतम आनन्द, नागेन्द्र सिंह त्यागी, तबरेज निजामी, यश कुमार, सुमित कुमार सहित बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे।