Fakkad Baba: 60 साल से गुफा में रह रहे संत ने राम मंदिर के लिए दान किए 1 करोड़ रुपए, सभी हैरान

0
279

Fakkad Baba Ram mandir Donation. अयोध्या में भव्य राम मंदिर निर्माण (Ram Mandir) के लिए पूरे देश में चंदा अभियान जारी है. भगवान राम से देशवासियों की आस्था किस कदर जुड़ी है, इसकी बानगी धर्मनगरी ऋषिकेश में देखने को मिली. दरअसल, यहां एक संत ने राम मंदिर निर्माण के लिए एक करोड़ रुपए की बड़ी रकम दान की है.

फक्कड़ बाबा (Fakkad Baba) के नाम से मशहूर संत शंकर दास गुरुवार को ऋषिकेश स्टेट बैंक की शाखा में दान की रकम देने पहुंचे. उन्होंने जैसे ही बैंक कर्मचारियों को एक करोड़ का चेक सौंपा सभी हैरान रह गए.

बताया जा रहा है कि 60 सालों से गुफा में रहकर जीवन व्यतीत कर रहे संत शंकर दास (Fakkad Baba) ने राम मंदिर निर्माण (Ram Mandir) के लिए एक करोड़ का दान दिया है. फक्कड़ बाबा (Fakkad Baba)जब बैंक पहुंचे तो कर्मचारियों को एक बार विश्वास ही नहीं हुआ. जब कर्मचारियों ने उनके खाते जांच की तो 83 साल के स्वामी शंकर दास के अकाउंट में पर्याप्त रकम पाई गई. बाबा ने अपने जीवनभर की कमाई का यह पूरा पैसा अयोध्या में बनने वाले राम मंदिर के निर्माण के लिए दान में दे दिया.

संत शंकर दास ने राम मंदिर के खाते में जमा कराया चेक

बता दें कि यह फक्कड़ बाबा (Fakkad Baba), टाट वाले बाबा के शिष्य के रूप में गुफाओं में जीवन व्यतीत कर रहे थे. टाट वाले बाबा से मिलने वाले लोगों के दान में मिलने वाली रकम को बाबा ने जमा करके राम मंदिर के लिए दान कर दिया.

ये भी पढ़ें:  वो दिव्य आत्मा.. जिसने पूरे दुनिया में भारतीय संस्कृति का डंका बजाया

स्टेट बैंक के कर्मचारियों ने ऋषिकेश में आरएसएस के पदाधिकारियों को तुरंत इस बारे में सूचित किया गया. ऋषिकेश क्षेत्र के राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के नगर कार्यवाह कृष्ण कुमार सिंघल ने बैंक में पहुंचकर बाबा शंकर दास से मिलकर यह चेक राम मंदिर (Ram Mandir)  के खाते में जमा कराया.

गुप्त दान के रूप में देना चाहते थे चंदा

हालांकि फक्कड़ बाबा (Fakkad Baba) इस चंदे को गुप्त दान के रूप में देना चाहते थे लेकिन जब आरएसएस के पदाधिकारियों ने बात की तब बाबा ने चेक सौंपते हुए एक फोटो खिंचवाया. आरएसएस के पदाधिकारी सुदामा सिंघल ने बताया कि ऋषिकेश में 60 सालों से एक गुफा में निवास कर रहे संत शंकर दास डाक वाले बाबा के अनुयाई हैं.

जब पीएम मोदी ने अयोध्या में भूमि पूजन की शुरुआत की और देशभर के लोगों से दान देने की अपील करें तो यह बात पता चलने पर फक्कड़ बाबा ने अपने पूरे जीवनभर की कमाई को भव्य राम मंदिर (Ram Mandir) के लिए दान में दे दी.