आजम खान की बहन के नाम गैरकानूनी तरीके से आवंटित था बंगला, आवंटन रद्द करेगी योगी सरकार

0
526
Azam Khan Yogi
(Image Courtesy: Google)

नई दिल्ली। समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान के बंगले को गिराने का निर्देश जारी करने के बाद अब उत्तर प्रदेश सरकार उनकी बहन निकहत अफलाक के नाम से आवंटित बंगले को रद्द करने जा रही है।

लखनऊ की पावर बैंक कॉलोनी में आजम खान की बहन निकहत अफलाक के नाम से 6000 स्क्वायर फीट का एक बंगला आवंटित है।

गैर कानूनी तरीके से किया गया आवंटन

दरअसल, ये बंगला गैरकानूनी तरीके से निकहत अफलाक को आवंटित किया गया था। आरोप है कि फर्जी दस्तावेजों के आधार पर 13 साल पहले इस बंगले को तत्कालीन यूपी सरकार ने निकहत अफलाक को आवंटित किया था।

रामपुर की महिला ने शिकायत दर्ज कराई

इस आवंटन के खिलाफ रामपुर की ही एक महिला ने शिकायत दर्ज की थी। इस शिकायत पर कार्रवाई करते हुए लखनऊ नगर निगम ने कार्रवाई की है।

6000 स्क्वायर फुट का है बंगला

मौजूदा समय में 6000 स्क्वायर फीट के इस बंगले में कोई नहीं रहता है। इस पर अभी ताला लगा हुआ है। आजम खान की बहन निकहत अफलाक एक सरकारी स्कूल में टीचर थीं, वे अब रिटायर हो चुकी हैं और अपने रामपुर के घर में ही रहती हैं। इस बंगले को लेकर रामपुर की ही एक महिला ने शिकायत की थी जिसके आधार पर बंगले को वापस लेने की कार्यवाही शुरू हो गई है।

बंगले पर नोटिस

लखनऊ नगर निगम ने बंगले पर नोटिस चिपका दिया है और निकहत अफलाक से जवाब मांगा है। इस नोटिस का संतोषजनक जवाब देना पड़ेगा। ऐसा ना करने पर बंगले का आवंटन निरस्त करने की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी।

इससे पहले शनिवार को रामपुर डेवलपमेंट अथॉरिटी ने आजम खान के हमसफर रिजॉर्ट को तोड़ने के लिए नोटिस जारी किया था। नोटिस में कहा गया है कि सपा सांसद 15 दिनों के अंदर स्वयं अवैध निर्माण को ध्वस्त करें, नहीं तो प्रशासन की ओर से कार्रवाई की जाएगी और इस अवैध निर्माण को ध्वस्त करने का खर्चा भी उन्हीं से वसूला जाएगा।

आजम खान के रिजॉर्ट को गिराने का नोटिस उनकी पत्नी तंजीम फातिमा को सीतापुर जेल में भेज दिया गया है। दरअसल ये रिजॉर्ट तंजीम फातिमा के नाम है। रामपुर विकास प्राधिकरण के मुताबिक, हमसफर रिजॉर्ट बिना नक्शा पास कराए बनाया गया है।