अनुराग ठाकुर का सपा पर हमला- जनता को दंगा वाली नही, दंगल वाली सरकार चाहिए

नई दिल्ली: Anurag Thakur: एक ओर यूपी विधानसभा चुनाव 2022 (UP Election 2022) से पहले जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथा (Yogi Adityanath) तमाम उद्घाटन कर रहे हैं।

तो दूसरी ओर बलिया जिले के फेफना विधानसभा के नरही स्थित खेल मैदान में केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर (Anurag Thakur) ने कहा कि प्रधानमंत्री-मुख्यमंत्री के जनसभा का जनसैलाब बताता है कि जनता को दंगा वाली नही, दंगल वाली सरकार चाहिए। सपा के समय गोली चलती थी, बीजेपी में फुटबॉल गोली की तरह चलता है।

उन्होंने (Anurag Thakur) कहा कि देश की सबसे बड़ी स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी यूपी में बनने जा रही है। कई खेल मैदान और इंडोर स्टेडियम बनाए जा रहे हैं। उन्होंने भरोसा दिलाया कि आने वाले समय में यूपी खेल की ऊंचाइयों पर होगा। उन्होंने कहा कि ऐसे सुदूर क्षेत्र में, गांव-गिरांव में ऐसे बड़े स्तर की खेल प्रतियोगिता का आयोजन प्रशंसनीय है।

उन्होंने खिलाड़ियों का उत्साहवर्धन करते हुए कहा कि खेल और खिलाड़ी के लिए मैं हमेशा उपलब्ध रहता हूं। खिलाड़ियों का सम्मान हमेशा मेरी पहली प्राथमिकता होती है। ओलंपिक में भाग लिए और जीत कर आए खिलाड़ियों का अपार सम्मान पीएम मोदी और सीएम योगी ने किया।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में गुंडागर्दी नहीं चलने दी। अपराधियों के घर बुलडोजर चलवाए। लोग शांति चाहते हैं। कोरोना महामारी के समय 80 करोड़ लोगों को दोगुना राशन दिया गया। हर जरूरतमंद को निःशुल्क सिलेंडर, पक्का मकान व अन्य मूलभूत सुविधाएं दी गईं। यही वजह है कि लोगों का भरोसा आज भी पीएम मोदी व सीएम योगी पर है।

अनुराग ने गांव में ऐसी शानदार प्रतियोगिता कराने की प्रशंसा की

सम्बोधन के बाद केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने सभी खिलाड़ियों व आयोजकों से मिले और गांव में इस तरह की शानदार प्रतियोगिता कराने के लिए धन्यवाद दिया। क्रीड़ाधिकारी अतुल सिन्हा के अलावा आयोजक मण्डल के नीरज राय, पवन राय आदि की पीठ भी थपथपाई। उन्होंने भरोसा दिलाया कि खेल के क्षेत्र में इस इलाके के लिए उनकी ओर से हरसंभव प्रयास किए जाएंगे।

सांसद ने किया स्वागत

समारोह की अध्यक्षता कर रहे सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त ने सबसे पहले पहली बार जनपद की धरती पर आए केंद्रीय खेल मंत्री का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि जनपद ऋषि व कृषि एवं किसानों व जवानों का इलाका है। किसानों के हित में सरकारी स्तर का जो बेहतर काम मोदी सरकार में हुआ, वह कभी नहीं हुआ था। उन्होंने उपेंद्र तिवारी को उनके क्षेत्र फेफना में दो करोड़ रुपये सांसद निधि से देने की बात कही।

खेल-खिलाड़ियों का बढ़ा मान: उपेंद्र

प्रदेश के खेल मंत्री उपेंद्र तिवारी ने केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर के अलावा वहां आए सभी अतिथियों व क्षेत्रीय लोगों का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि मोदी-योगी के स्नेह की बदौलत देश-प्रदेश का चहुंमुखी विकास का सिलसिला जारी है। खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करने व उनका ख्याल रखने की देन है कि खेल के क्षेत्र में प्रदेश लगातार ऊंचाइयों पर जा रहा है। यहां के खिलाड़ी अपनी खेल से प्रदेश व देश का नाम रोशन कर रहे हैं।

मिनी स्टेडियम की घोषणा होते ही युवाओं का उत्साह हुआ दोगुना

केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने जैसे ही नरहीं व कथरिया में मिनी स्टेडियम बनवाने की घोषणा की तो खेल मैदान में वहां मौजूद युवाओं का उत्साह और दोगुना हो गया। खेल प्रेमियों के लिए यह किसी खास उपहार से कम नहीं था। दो-दो मिनी स्टेडियम की घोषणा होते ही सामने जनसैलाब में खड़े युवाओं व खेल प्रेमियों ने चिल्लाकर अपनी खुशी का इजहार किया और खेल मंत्री को धन्यवाद ज्ञापित किया। दरअसल, उपेंद्र तिवारी ने नरहीं व कथरिया में मिनी स्टेडियम बनवाने के साथ मुख्यालय पर वीर लोरिक स्पोर्ट्स स्टेडियम में तरणताल भी बनवाने की मांग रखी थी।

वहीं, उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव (Uttar Pradesh Election 2022) की तैयारी शुरू हो चुकी है। 403 सीटों वाली 18वीं विधानसभा के लिए ये चुनाव फरवरी से अप्रैल के बीच हो सकते हैं। 17वीं विधानसभा का कार्यकाल (UP Assembly ) 15 मई तक है. 17वीं विधानसभा के लिए 403 सीटों पर चुनाव 11 फरवरी से 8 मार्च 2017 तक 7 चरणों में हुए थे। इनमें लगभग 61 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। इनमें 63 प्रतिशत से ज्यादा महिलाएं थीं, जबकि पुरुषों का प्रतिशत करीब 60 फीसदी रहा। चुनाव में बीजेपी ने 312 सीटें जीतकर पहली बार यूपी विधानसभा (Uttar Pradesh Vidhansabha) में तीन चौथाई बहुमत हासिल किया।

वहीं, अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) की अगुवाई में समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) और कांग्रेस (Congress) गठबंधन 54 सीटें जीत सका। इसके अलावा प्रदेश में कई बार मुख्यमंत्री रह चुकीं मायावती (Mayawati) की बीएसपी (Bahujan Samaj Party ) 19 सीटों पर सिमट गई। इस बार सीधा मुकाबला समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) और भाजपा (Bhartiya Janata Party) के बीच है। भाजपा योगी आदित्यनाथ ( Yogi Adityanath) और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के चेहरे को आगे कर चुनाव लड़ रही है।