IT रेड के बाद अखिलेश यादव का योगी सरकार पर आरोप- हमारे फोन हो रहे टैप, रोज रिकॉर्डिंग सुनते हैं CM

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव (Uttar Pradesh Assembly Elections 2022) से पहले बीजेपी (BJP) के लिए सबसे बड़ी चुनौती के रूप में उभर रही समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने आज आरोप लगाया कि उनका और उनकी पार्टी के नेताओं के फोन टैप किए जा रहे हैं और “मुख्यमंत्री खुद हर शाम उसकी रिकॉर्डिंग सुनते हैं।”

अपनी पार्टी के राष्ट्रीय सचिव राजीव राय और अपने निजी सचिव जैनेंद्र यादव समेत करीबी नेताओं के ठिकानों पर की गई आयकर विभाग की छापेमारी के अगले दिन अखिलेश यादव ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर जोरदार हमला बोला और उन्हें अनुपयोगी मुख्यमंत्री करार दिया।

अखिलेश ने कहा कि उनकी पार्टी के नेताओं के ठिकानों पर छापेमारी इस बात का संकेत है कि बीजेपी चुनाव हारने वाली है। सपा प्रमुख ने मुख्यमंत्री को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कल ‘यूपी+योगी’ उपयोगी कहे जाने को खारिज करते हुए उन्हें “अनुपयोगी” करार दिया।

छापों का हवाला देते हुए, यादव ने कहा कि बीजेपी भी उसी स्क्रिप्ट पर काम कर रही है जो कांग्रेस बतौर शासक सौंपकर गई है। अखिलेश यादव ने योगी आदित्यनाथ का नाम लिए बिना कहा, “मुख्यमंत्री अनुपयोगी हैं। उन्हें कम्प्यूटर और स्मार्टफोन भी चलाना नहीं आता। अगर कोई उन्हें कम्प्यूटर दिखा दे तो वह डर जाते हैं।”

अखिलेश ने कल भी छापेमारी का विरोध करते हुए कहा था कि चुनाव को देखते हुए बीजेपी ने केंद्रीय एजेंसियों की आड़ में छापेमारी करवाई है। उन्होंने कहा था कि अभी तो आयकर विभाग आया है, ईडी और सीबीआई का आना बाकी है।