Akhilesh Yadav on IT Raid: IT रेड पर गुस्से से तिलमिलाए अखिलेश, बोले-दिल्ली से एजेंसी साथ लेकर आते हैं बीजेपी नेता

कन्नौज। उत्तर प्रदेश चुनाव से पहले आयकर विभाग ने शुक्रवार को देशभर में 50 अलग-अलग ठिकानों पर छापेमारी (Akhilesh Yadav on IT Raid) की। छापेमारी में समाजवादी पार्टी के एमएलसी और इत्र कारोबारी पुष्पराज जैन पम्पी के ठिकानों पर भी आयकर विभाग ने छापे मारे।

आयकर विभाग की कन्नौज, कानपुर, दिल्ली-एनसीआर, मुंबई और सूरत समेत कई जगहों पर जारी है। आईटी रेड की इस कार्रवाई से समाजवादी पार्टी नाराज है। सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav on IT Raid) इत्र कारोबारी पुष्पराज जैन पम्पी के साथ कन्नौज में प्रेस कॉन्फ्रेंस करने वाले थे, लेकिन उससे पहले ही आयकर विभाग ने रेड कर दी। हालांकि अपने तय कार्यक्रम के मुताबिक, अखिलेश यादव आज कन्नौज पहुंचे और प्रेस कॉन्फ्रेंस की।

Akhilesh Yadav on IT Raid: सपाइयों पर तय थे छापे

सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी लोगों पर छापे पड़ने तय थे। दिल्ली के नेता जब भी यूपी में आते हैं तो ऐसा लगता है कि एजेंसी को साथ में लेकर आते हैं। उनको इसी दौरान छापेमारी के निर्देश दिए जाते हैं। कन्नौज की पहचान इत्र से है। सुगंध का राजधानी कन्नौज है। इत्र कारोबार से किसान भी जुड़े हैं। यहां परफ्यूम पार्क बनाया जाना था। इससे किसानों को फायदा होता लेकिन बीजेपी की सरकार आते ही काम रुक गया। भारतीय जनता पार्टी ने कन्नौज के कई काम रोक दिए। अगर ये काम होते तो दुनिया में कन्नौज का डंका बजता।

अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav on IT Raid) ने आगे कहा कि पहले दिन से यहां के लोगों ने देखा है कि कन्नौज के साथ किस तरह से व्यवहार हुआ है? बीजेपी के लोग नफरत की दुर्गंध फैलाने वाले सौहार्द की सौगंध को कैसे पसंद कर सकते हैं? इसलिए जानबूझकर सपा को बदनाम कर रहे हैं। दुख इस बात का है कि लखनऊ से लेकर दिल्ली वाले तक कन्नौज को बदनाम करने में लगे हैं। पहले इन्होंने जहां छापा मारा, समाजवादी पार्टी का उससे कोई संबंध नहीं है। जिसपर पहली बार छापा पड़ा, उसका बीजेपी से संबंध है। बीजेपी बताए इतने बड़े पैमाने पर कैश कैसे निकला? बीजेपी ने ही बताया था कि नोटबंदी के बाद कालाधन कोई जमा नहीं कर पाएगा।

ये भी पढ़ें : बड़ी खबर: पीयूष के बाद सपा MLC पुष्पराज जैन के घर IT की रेड, समाजवादी इत्र किया था लॉन्च

चुनाव हारने पर होने लगती है छापेमारी

सपा सुप्रीमो ने कहा कि जिन्होंने समाजवादी इत्र बनाया पुष्पराज जैन, उनके ठिकानों पर छापा मारा है। जहां-जहां ये चुनाव हारने लगते हैं, छापेमारी होने लगती है। जिस दिन गाजीपुर से शुरू हुई समाजवादी यात्रा लखनऊ पहुंची, दिल्ली में तीनों काले कानून वापस हो गए। सपा को मिलते अपार जन समर्थन से बीजेपी बौखला गई है। दिल्ली से बहुत नेता यहां आ गए हैं। बीजेपी जैसे-जैसे हार के करीब पहुंचेगी उनके नेता बड़ी संख्या में यहां आएंगे। बीजेपी ने आयकर विभाग और अन्य एजेंसियों से गठबंधन किया है। जनता ने बीजेपी का सफाया करने का मन बना लिया है।

उन्होंने (Akhilesh Yadav on IT Raid) आगे कहा कि जहां-जहां चुनाव होते हैं बीजेपी अपने सरकारी गठबंधन वाले लोग भी वहां ले जाती है। वो लोग मजबूरी में छापेमारी करने जाते हैं। कन्नौज की जनता ने हमेशा जयचंदों को पहचाना है। जनता फिर से जयचंदों को सबक सिखाएगी। हिटलर के जमाने में सिर्फ एक विभाग होता था जो प्रोपेगेंडा फैलाता था लेकिन बीजेपी की पूरी की पूरी पार्टी ही प्रोपेगेंडा फैलाती है। बीजेपी के लोग झूठ बोलने में नंबर 1 हैं।

अखिलेश यादव ने कहा कि बीजेपी के डिजिटल इंडिया की सबसे बड़ी नाकामी ये है कि वो समाजवादी इत्र बनाने वाले का पता नहीं लगा पाए। उन्होंने अपने ही आदमी के घर रेड कर दी।