अब अपना दल ने दिया BJP को झटका, दो विधायकों ने पार्टी छोड़ योगी पर लगाए ये आरोप

डेस्क: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh News) में अगले महीने होने वाले विधानसभा चुनाव (UP Election 2022) से ठीक पहले भाजपा के सहयोगी अपना दल (Apna Dal) के दो विधायकों ने इस्तीफा दे दिया है।

उनके इस्तीफे के बाद, चौधरी अमर सिंह (Chaudhary Amar Singh) ने कहा कि यह सरकार झूठी है और कोई विकास नहीं किया गया है। मैं अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) से मिला हूं और उनकी पार्टी में शामिल हो जाऊंगा। जल्द ही और लोग हमारे साथ जुड़ेंगे। वह सिद्धार्थ नगर से शोहरतगढ़ सीट से सपा के टिकट पर चुनाव लड़ सकते है।

योगी सरकार पर उठाए सवाल

अपना दल (Apna Dal) के अन्य विधायक आरके वर्मा (RK Verma) ने भी पार्टी छोड़ने का ऐलान किया है। वह प्रतापगढ़ की विश्वनाथ गंज सीट का प्रतिनिधित्व करते हैं। दोनों विधायकों ने गठबंधन छोड़ने के लिए योगी आदित्यनाथ सरकार (Adityanath Govt) को जिम्मेदार ठहराया।

दो नए इस्तीफे के साथ, उत्तर प्रदेश में सत्तारूढ़ गठबंधन के कुल 12 विधायकों ने राज्य सरकार पर पिछड़ा वर्ग विरोधी होने का आरोप लगाते हुए इस्तीफा दे दिया है। तीन मंत्रियों सहित भाजपा के दस विधायक मंगलवार से अब तक भाजपा छोड़ चुके हैं।

यह सिलसिला शीर्ष मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya) के बाहर निकलने के साथ शुरू हुआ, उसके बाद उसी दिन उनके करीबी तीन विधायक – भगवती सागर, रोशन लाल वर्मा और बृजेश प्रजापति ने पार्टी छोड़ दी थी।

बुधवार को राज्य के एक अन्य मंत्री दारा सिंह चौहान और विधायक अवतार सिंह भडाना ने इस्तीफा दे दिया। भडाना सपा के सहयोगी रालोद में शामिल हो गए। गुरुवार को मंत्री धर्म सिंह सैनी और भाजपा के तीन अन्य विधायक विनय शाक्य, मुकेश वर्मा और बाला अवस्थी ने भी पार्टी छोड़ दी।

Leave comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *.