राष्ट्रपति कोविंद से मिले PM मोदी, बताई Security Breach की पूरी घटना

नई दिल्ली: पंजाब में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में हुई चूक (PM Modi Security Breach) के मसले पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ramnath Kovind) ने भी चिंता जताई। इसके बाद आज पीएम मोदी राष्ट्रपति कोविंद से मिलने राष्ट्रपति भवन पहुंचे। इससे पहले उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडु ने पीएम मोदी से बात की है।

मुलाकात के बारे में राष्ट्रपति के ट्विटर हैंडल से जानकारी दी गई। लिखा गया कि पीएम मोदी आज राष्ट्रपति कोविंद से मिलने पहुंचे। आगे बताया गया कि पीएम ने उन्हें पंजाब में हुई घटना की पूरी जानकारी दी। फिर राष्ट्रपति ने पीएम की सुरक्षा में हुई गंभीर चूक पर चिंता जाहिर की।

इस मुलाकात के बाद नरेंद्र मोदी ने भी ट्वीट किया। उन्होंने लिखा, ‘राष्ट्रपति जी ने मिलने बुलाया। उनकी चिंता के लिए उनका आभारी हूं। उनकी शुभकामनाओं के लिए आभारी हूं जो हमेशा शक्ति का स्रोत होती हैं।’

राष्ट्रपति कोविंद को पीएम ने घटना की पूरी जानकारी दी

उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडु ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। उपराष्ट्रपति के ट्विटर अकाउंट से लिखा गया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पंजाब यात्रा के दौरान उनकी सुरक्षा में हुई गंभीर चूक पर आज प्रधानमंत्री से बात की। प्रधानमंत्री की सुरक्षा में हुई इस चूक पर गंभीर चिंता व्यक्त करते हुए, उपराष्ट्रपति ने अपेक्षा की है कि सुरक्षा प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करने के लिए कठोर कदम उठाए जाएं जिससे भविष्य में दोबारा इस प्रकार की चूक न हो।

पंजाब सरकार ने बनाई जांच कमेटी

पीएम की सुरक्षा में हुई चूक के मसले पर पंजाब की चन्नी सरकार घिरी हुई है। अब चन्नी सरकार ने इस मसले की चांच के लिए हाई-लेवल कमेटी का गठन भी कर दिया है। यह कमेटी तीन दिनों में अपनी रिपोर्ट तैयार करेगी। एक आधिकारिक प्रवक्ता ने बताया कि कमेटी में रिटायर्ड जस्टिस मेहताब सिंह गिल और प्रमुख सचिव (गृह मामलों और न्याय) अनुराग वर्मा शामिल हैं।

सुप्रीम कोर्ट पहुंचा है मामला

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में चूक का मामला सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच गया है। इसे सुप्रीम कोर्ट में चीफ जस्टिस एनवी रमन्ना के समक्ष मेंशन किया गया है। चीफ जस्टिस की बेंच इसपर शुक्रवार को सुनवाई का फैसला कर सकती है। जानकारी के मुताबिक, सीनियर एडवोकेट मनिंदर सिंह ने इस मामले से जुड़ी जनहित याचिका दायर की है।

याचिका में कहा गया है कि इस तरह की सुरक्षा में चूक स्वीकार्य नहीं की जा सकती। याचिका में सीनियर एडवोकेट मनिंदर सिंह ने पंजाब सरकार को उचित निर्देश देने, उत्तरदायी लोगों के खिलाफ सख्त एक्शन लेने की मांग की है। कहा गया है कि इस तरह की आगे ऐसी चूक नहीं होगी।

पीएम मोदी की सुरक्षा में हुई थी चूक

पीएम मोदी बुधवार को पंजाब दौरे पर गए थे। यहां सड़क के रास्ते हुसैनीवाला जाते वक्त कुछ प्रदर्शनकारियों ने उनका रास्ता रोक लिया था। इसके बाद पीएम मोदी का काफिला यहां 15-20 मिनट रुका रहा। इसे पीएम मोदी की सुरक्षा में बड़ी चूक बताई जा रही है। इसे लेकर गृह मंत्रालय ने पंजाब सरकार से रिपोर्ट मांगी है।

वहीं, बीजेपी का आरोप है कि पंजाब पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को पीएम के रास्ते की जानकारी दी। जबकि कांग्रेस का कहना है कि पीएम मोदी की रैली में भीड़ नहीं थी, ऐसे में उन्होंने जानबूझकर अपना दौरा रद्द किया।