बॉलीवुड का एक और शर्मनाक चेहरा, मॉडल का आरोप-Sajid Khan ने मुझे रोल के बदले कपड़े उतारने को कहा

0
745
बॉलीवुड का एक और शर्मनाक चेहरा, मॉडल का आरोप-Sajid Khan ने मुझे रोल के बदले कपड़े उतारने को कहा
(Image Courtesy: Google)

नई दिल्ली. मीटू मूवमेंट के दौरान 2018 में Bollywood फिल्म निर्माता साजिद खान (Sajid Khan) पर कई महिलाओ ने यौ;न उत्पीड़न के आरोप लगाए थे. इसके बाद साजिद को अपने मौजूदा Bollywood फिल्म प्रोजेक्ट्स से बाहर होना पड़ा था. अब मॉडल पाउला ने साजिद खान (Sajid Khan) पर एक बार फिर संगीन आरोप लगाएं हैं. उन्होंने इंस्टाग्राम पर इसके बारे में लिखा है.

पाउला ने Sajid Khan पर लगाए गंभीर आरोप

पाउला ने लिखा- ‘जब #METOO मूवमेंट शुरू हुआ था, तो कई लोगों ने साजिद खान को लेकर काफी कुछ कहा. मुझ में ऐसा करने की हिम्मत नहीं थी क्योंकि हर दूसरे एक्टर की तरह जिसके पास कोई गॉड फादर नहीं है और अपने फैमिली के लिए कमाना है तो मैं चुप रही.’

‘अब मेरे पेरेंट्स मेरे साथ नहीं है. मैं केवल खुद के लिए कमाती हूं, तो मैं ये बताने की हिम्मत रखती हूं कि मुझे 17 साल की उम्र में साजिद खान ने हैरेस किया था.’

मुझे छूने की कोशिश की

पाउला ने आगे लिखा- ‘Sajid Khan ने मुझे गंदी बातें कहीं, उसने मुझे छूने की कोशिश की. यहां तक की साजिद ने मुझे उसके सामने कपड़े उतारने तक के लिए कहा, केवल उसकी हाउसफुल फिल्म में रोल के लिए.’

ये भी पढ़ें : Sonu Sood Scholarship: गरीब बच्चों को मुफ्त शिक्षा दिलांगे सोनू, खुद उठाएंगे हर बच्चे की पढ़ाई का खर्च

‘भगवान जाने उसने ऐसा कितनी लड़कियों के साथ किया होगा. अब मैं इसलिए सामने आ रही हूं कि मुझे ये एहसास हुआ कि इसने मुझे बहुत बुरी तरह से प्रभावित किया है, जब मैं बच्ची थी और मैंने नहीं बोलना चुना.” ”इस तरह के लोगों को जेल की सलाखों के पीछे होना चाहिए, न केवल Bollywood में कास्टिंग का;उच के लिए बल्कि बहलाने-फुसलाने और आपके सपनों को दूर करने के लिए.”

महिला पत्रकार भी लगा चुकी है आरोप

साजिद खान (Sajid Khan) पर सबसे पहले एक महिला पत्रकार ने सनसनीखेज आरोप लगाये थे. उसके बाद Bollywood अभिनेत्री सलोनी चोपड़ा, रशेल वाइट, सिमरन सूरी ने भी डायरेक्टर पर गंभीर आरोप लगाए. इन आरोपों पर गंभीरता से विचार करते हुए IFTDA ने साजिद को एक साल के निलंबित कर दिया था.

भाई साजिद पर आरोप लगने के बाद फराह खान ने ट्वीट कर लिखा था, ‘यह मेरे परिवार के लिए आहत करने वाला समय है. हमें बहुत मुश्किल मुद्दों पर काम करने की जरूरत है. यदि मेरे भाई ने ऐसा बर्ताव किया है तो उसे इसका बहुत खामियाजा भुगतना पड़ेगा. मैं किसी भी तरह से इस बर्ताव का समर्थन नहीं करती हूं और आहत महिलाओं की एकजुटता में उनके साथ हूं.’