12 हज़ार लोगों को नौकरी से निकालेगा फेसबुक, छंटनी के लिए जुकरबर्ग के पास भेजी गई कर्मचारियों की लिस्ट

by Waqar Panjtan

अमेरिका और यूरोप में मंदी आने से पहले इसका असर दिखना शुरू हो गया है. यूएस की दिग्गज टेक कंपनी फेसबुक छंटनी की तैयारी कर रहा है. एक रिपोर्ट के अनुसार, फेसबुक की पैरेंट कंपनी मेटा (Meta) करीब 12 हजार कर्मचारियों को जॉब से निकाल सकती है. दरअसल कंपनी यह कदम ऐसे वक्त में उठा रही है जब विज्ञापन से होने वाली उसकी कमाई कम हुई है.

इससे पहले गूगल ने दूसरी तिमाही उम्मीद से कम कमाई होने की रिपोर्ट सामने आने के बाद कर्मचारियों के भत्तों में भारी कटौती कर चुका है. है. इसके साथ ही गूगल में नई भर्ती की प्रोसेस भी धीमी हो गई है.

मैनेजमेंट ने कमजोर प्रदर्शन करने वाले कर्मचारियों के नाम मांगेबिजनेस इनसाइडर की एक रिपोर्ट में बताया गया है कि मार्क जुकरबर्ग ने हाल ही में कर्मचारियों के साथ एक मीटिंग में छंटनी करने का संकेत दिया है. इसके लिए मैनेजमेंट ने सभी टीम लीडर्स से अपनी टीम के कम से कम 15 फीसदी ऐसे कर्मचारियों का नाम देने को कहा है जिनका प्रदर्शन ज्यादा बेहतर नहीं है.

रिपोर्ट के अनुसार, इस संभावित छंटनी की जानकारी मेटा के एक कर्मचारी ने ब्लाइंड ऐप पर दी. यह ऐप टेक कंपनियों के एंप्लाई के बीच काफी लोकप्रिय है. इस कर्मचारी ने बताया कि फेसबुक अगले कुछ सप्ताह में कई लोगों की नौकरी जा सकती है. जिन लोगों का प्रदर्शन कमजोर है उन्हें इस लिस्ट में डाला जाएगा और रिजाइन देने के लिए 30 दिन का समय दिया जाएगा.

हायरिंग भी कम करेगी कंपनीमेटा पहले ही कह चुका है कि वह अगले साल तक हायरिंग में कमी करेगा और अहम प्रोजेक्ट्स और कुछ नये कामों को प्राथमिकता देगा. फर्स्ट क्वार्टर की अर्निंग कॉल में कंपनी ने कहा था कि इससे उसका सालाना खर्च पिछले अनुमान से लगभग 3 अरब डॉलर कम होगा.

इससे पहले वॉल स्ट्रीट जनरल ने भी एक रिपोर्ट में कहा था कि मेटा कुछ महीनों में कम से कम 10 फीसदी लागत घटाने जा रही है. इसके लिए कंपनी सभी विभाग में रिस्ट्रक्चरिंग करने की योजना बना रही है ताकि ज्यादा संख्या में कर्मचारियों को नौकरी से निकाला जा सके.

Ⓒ 2022 Copyright and all Right reserved for Newzbulletin.in