मोदी सरकार के एक फैसले से चीन को अरबों को नुकसान, सिर्फ TikTok बंद होने से 720 करोड़ का घाटा

0
206
PM-Modi-TikTok
(Image Courtesy: Google)

नई दिल्ली. भारत-चीन सीमा पर तनाव के बीच पूरे देश में चीनी सामान के बहिष्कार (Boycott china) की मांग उठ रही है. इसी बीच मोदी सरकार ने चीन के 59 ऐप बैन (59 chinese app ban) कर दिए, जिसमें टिकटॉक (Tiktok) समेत कई लोकप्रिय ऐप है।

आइए जानते हैं टिकटॉक ऐप भारत में कितना लोकप्रिय है, इसके भारत में कितने यूजर हैं और चीन को अपने इस ऐप के जरिए भारत से कितनी कमाई होती है.

भारत में टिकटॉक के कितने यूजर?

आज के समय में टिकटॉक (TikTok) को कौन नहीं जानता। हर युवा इसकी ओर खिंचा चला आ रहा है. बहुत से लोग तो टिकटॉक से ही स्टार तक बन गए. चीनी कंपनी बाइटडांस (Bytedance) का ये प्रोडक्ट भारत में करीब 11.9 करोड़ लोग इस्तेमाल करते हैं. इसी कंपनी ने भारत में हेलो (Helo) ऐप भी लॉन्च किया है, जिसके करीब 5 करोड़ मंथली यूजर हैं. चीन का ये ऐप भारत के शेयरचैट ऐप को तगड़ी टक्कर देता है.

टिकटॉक से कितना कमाता है चीन?

एक रिपोर्ट के मुताबिक टिक टॉक के मालिकाना हक वाली कंपनी बाइटडांस ने पिछले साल 3 अरब डॉलर यानी 22,500 करोड़ रुपये का फायदा कमाया. बता दें कि कंपनी ने 2018 में 7.4 अरब डॉलर की कमाई की थी, जो 2019 में बढ़कर 17 अरब डॉलर हो गई. ये कमाई सिर्फ टिकटॉक की नहीं, बल्कि हेलो समेत अन्य प्रोडक्ट्स की भी है.

टिकटॉक बंद होने से चीन को सालाना 720 करोड़ का नुकसान!

बात अगर सिर्फ टिकटॉक की करें तो कंपनी को 2019 की चौथी तिमाही में 377 करोड़ रुपये की आय हुई थी. साल दर साल के हिसाब से टिकटॉक की कमाई चौथी तिमाही में करीब 310 गुना बढ़ गई. पूरे 2019 वित्त वर्ष में कंपनी को करीब 720 करोड़ रुपए की कमाई सिर्फ टिकटॉक के जरिए हुई थी. यानी सिर्फ टिकटॉक बंद होने से ही चीन को हर साल करीब 720 करोड़ रुपए का नुकसान होगा.

2 अरब से अधिक बार डाउनलोड हुआ टिकटॉक

टिकटॉक 2016 में लॉन्च हुआ था, जिसके बाद से उसकी लोकप्रियता लगातार बढ़ती ही जा रही है. अब तक इस ऐप को 2 अरब से भी अधिक बार डाउनलोड किया जा चुका है. इस ऐप में लोग छोटी-छोटी वीडियो बनाते हैं और पहले से रिकॉर्ड गानों या डायलॉग पर लिप्सिंग करते हैं. टिकटॉक पर वीडियो बनाकर बहुत से लोग सेलिब्रिटी भी बन गए हैं.