लॉकडाउन में मुकेश अंबानी की Reliance ने रचा इतिहास, समय से 9 महीने पहले ही कर्जमुक्त हुई कंपनी

मुंबई. Reliance इंडस्ट्री ने इतिहास रचते हुए तय समय सीमा से 9 महीने पहले ही अपना सारा कर्जा चुका दिया है. Reliance इंडस्ट्री के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने शुक्रवार को खुद इसकी जानकारी दी है.

मुकेश अंबानी के बयान के बाद Reliance के शेयरों में जबरदस्त उछाल देखने को मिल रहा है.

Reliance के डीएनए में है बेहतर प्रदर्शन

अंबानी ने एक बयान में कहा कि शेयरहोल्डरों और सभी स्टेकहोल्डरों की उम्मीदों से बेहतर प्रदर्शन करना Reliance के डीएनए में है. कंपनी के कर्ज मुक्त होने की गौरवपूर्ण अवसर पर मैं उन्हें आश्वस्त करना चाहता हूं कि Reliance अपने स्वर्णिम दशक में और कई महत्वाकांक्षी लक्ष्यों को हासिल करेगी.

ये भी पढ़ें : कश्मीर में सुरक्षाबलों काे बड़ी कामयाबी, 24 घंटे में 8 आ;तंकि’यों का सफाया… सर्च ऑपरेशन जारी

Reliance ने 58 दिनों में 168,818 करोड़ रुपये जुटाए हैं. मार्च 2020 तक कंपनी पर 161,035 करोड़ रुपये का कर्ज था. Reliance जियो ने फेसबुक, सिल्वर लेक, विस्टा इक्विटी पार्टनर्स, जनरल एटलांटिक, केकेआर मुदाबला, एडीआईए, टीपीजी, सऊदी पीआईएफ से 22 अप्रैल के बाद से राशि जुटाई है. राइट्स इश्यू से कंपनी ने 53,124 करोड़ रुपये जुटाए.

31 मार्च 2021 तक था कर्ज मुक्त बनने का लक्ष्य

कंपनी की पिछली एजीएम में अंबानी ने 31 मार्च 2021 तक Reliance को कर्ज मुक्त बनाने का लक्ष्य रखा था. लेकिन कंपनी ने नौ महीने पहले ही यह उपलब्धि हासिल कर इतिहास रच दिया है.

अंबानी के इस बयान के बाद आज Reliance के शेयर में तेजी देखने को मिली. आज शुरुआती कारोबार में कंपनी का शेयर 1.27 फीसदी उछलकर 1677 पर पहुंच गया था.