Kinetic Luna Electric: 50 साल बाद नए लुक में सड़कों पर फिर दौडेगी Kinetic Luna

Kinetic Luna Electric: 80-90 के दशक में जब मोटरसाइकिल और स्कूटर सड़कों पर गिने-चुने दिखते थे, उस समय और मोपेड का सड़कों पर राज चलता था. काइनेटिक कंपनी की लूना मोपेड तो आप सबको याद ही होगी.

50 साल पहले 1972 में लांच हुई काइनेटिक लूना मोपेड ने 28 सालों तक भारत की सड़कों पर राज किया. हालांकि 2000 में लूना का प्रोडक्शन पूरी तरह बंद कर दिया गया. हालांकि, अभी भी इक्की-दुक्की मोपेड आपको सड़क पर दिख जाएगी.

वापस आ रही Kinetic Luna

लूना के दीवानों के लिए अच्छी खबर ये है कि कंपनी 50 साल बाद अब नए अवतार में काइनेटिक लूना को दोबारा लांच करने जा रही है. इस बार लूना मोपेड इलेक्ट्रिक अवतार में आ रही है.

काइनेटिक इंजीनियरिंग लिमिटेड (KEL) ने बताया है कि काइनेटिक लूना इलेक्ट्रिक के कुछ पार्ट्स का उत्पादन शुरू भी कर दिया गया है. इसे काइनेटिक ई लूना (Kinetic e-Luna) नाम दिया जा सकता है, जिसे जल्द ही बाजार में लॉन्च किया जाना है.

ये भी पढ़ें : सिर्फ 2 लाख रुपए में खरीदे ऑल्टो से लेकर वैगन-आर, सिर चकरा देगी ये डील

कंपनी ने दावा किया है कि इलेक्ट्रिक लूना के मुख्य चेसिस, मुख्य स्टैंड, साइड स्टैंड और स्विंग आर्म समेत कई प्रमुख हिस्सो को तैयार किया जा चुका है. इस इलेक्ट्रिक मोपेड का निर्माण महाराष्ट्र के अहमदनगर में किया जाएगा. कंपनी की तरफ से बताया गया कि प्रोडक्शन लाइन में शुरुआत में हर महीने 5,000 यूनिट्स तैयार करने की क्षमता होगी.

जब हर दिन बिकती थी Kinetic Luna की 2000 यूनिट्स

कंपनी ने बताया कि एक समय था जब पेट्रोल इंजन से चलने वाली Kinetic Luna जमकर खरीदी जाती थी. इसमें उस समय 50 सीसी का इंजन मिलता था. कंपनी ने इसकी 2000 यूनिट्स प्रतिदिन तक बेची है.

केईएल के मैनेजिंग डायरेक्टर अजिंक्य फिरोदिया का मानना है कि इलेक्ट्रिक लूना अपने पेट्रोल वर्जन की तरह ही शानदार प्रदर्शन करेगी. उन्होंने बताया कि हमें उम्मीद है कि अगले दो-तीन सालों में इस व्यवसाय में सालाना 30 करोड़ रुपये से ज्यादा की ग्रोथ होगी. फिलहाल KERL ने अपकमिंग ई-लूना (e-Luna) की बैटरी, रेंज, पावर, लॉन्च डेट आदि की कोई जानकारी साझा नहीं की है.