कोरोना संकट के बीच मोदी सरकार की इस स्कीम में रोज 166 रुपये खर्च कर बन सकता है करोड़पति

0
202
Investment-Plans
(Image Courtesy: Google)

New Delhi: कोरोना संकट और आर्थिक सुस्ती से अर्थव्यवस्था का बुरा हाल है. आरबीआई के नीतिगत दरों में कटौती से बैंक ने भी एफडी की दरों में कटौती की है. छोटी बचत योजनाओं (Daily Investment) की ब्याज दरों में मार्च में भारी कटौती की गई थी और अब फिर से कटौती की आशंका है.

ऐसे में आपके पास अपनी बचत का ज्यादा से ज्यादा फायदा उठाने के सीमित विकल्प रह गए हैं. ऐसे में अगर आप बेहतर योजना के साथ निवेश (Daily Investment) करें तो आपको इस पर अच्छा रिटर्न मिल सकता है. इनमें सिस्टमैटिक इनवेस्टमेंट प्लान यानी एसआईपी के जरिए आपके लिए अच्छा विकल्प हो सकता है.

हर महीने 5 हजार का निवेश बनाएगा करोड़पति

अगर आपकी उम्र 25 साल है तो आप हर महीने 5 हजार रुपये निवेश करके रिटायरमेंट की उम्र में 2 करोड़ रुपये तक जमा कर सकते हैं. आपके निवेश पर सिर्फ 10 फीसदी की दर से रिटर्न मिलेगा तो भी आप रिटायरमेंट तक करोड़पति बन जाएंगे.

ये भी पढ़ें : पाकिस्तान में बन रहे हिंदू मंदिर पर छाए संकट के बादल, बनने से पहले ही जारी हुआ फतवा

इसके लिए आपको एसआईपी के जरिए निवेश करना होगा. इसमें कम जोखिम के साथ शानदार रिटर्न हैं. इसकी वजह यह है कि एसआईपी के जरिए पैसा म्यूचुअल फंड में निवेश किया जाता है. विशेषज्ञों की मानें तो ऐसे में कम से कम से 10 फीसदी की दर से रिटर्न तो मिलता ही है.

कम उम्र में शुरुआत का फायदा

अगर आप 25 साल की उम्र में हर महीने 5000 रुपये यानी हर दिन 166 रुपये का निवेश (Daily Investment) करते हैं तो 10 फीसदी की ब्याज दर से 60 साल की उम्र में आप कुल 21 लाख रुपये निवेश करेंगे. इस निवेश पर आपको ब्याज के रूप में करीब 1.70 करोड़ रुपये मिलेंगे. इस तरह आपको रिटायरमेंट के समय करीब 1.91 करोड़ रुपये की मोटी रकम हाथ लगेगी. आप जितनी देर में एसआईपी में निवेश शुरू करेंगे, उतनी ही आपकी मासिक निवेश की रकम बढ़ती जाएगी.

उम्र बढ़ने पर बढ़ेगी मासिक निवेश की रकम

मान लीजिए आप 30 साल की उम्र में एसआईपी में निवेश करना चाहते हैं और रिटायरमेंट की उम्र में 2 करोड़ रुपये के आसपास चाहते हैं तो आपको हर महीने 8 हजार रुपये निवेश करने होंगे.

आपके निवेश पर सिर्फ 10 फीसदी की दर से रिटर्न मिलेगा तो भी आपको रिटायरमेंट तक करीब 2 करोड़ रुपये आसानी से मिल जाएंगे. यानी 30 साल की उम्र में हर महीने 8000 रुपये के निवेश पर 10 फीसदी ब्याज दर के साथ आप 60 साल की उम्र तक 28.80 लाख रुपये निवेश करेंगे. इस पर आपको ब्याज से 1.53 करोड़ रुपये की कमाई होगी और रिटायरमेंट के समय आपके 1.82 करोड़ रुपये की भारीभरकम रकम मिलेगी.

एसआईपी में चाहिए अनुशासन

लेकिन SIP में अनुशासन की बहुत जरूरत होती है. यानी आपको हर महीने निवेश करना है. समय बीतने के साथ बड़ी राशि इकट्ठी हो जाती है. SIP के जरिए जल्दी निवेश शुरू करने पर अधिक रिटर्न हासिल होता, क्‍योंकि इस पर चक्रवृद्धि ब्याज मिलता है.

मान लीजिए अगर आप 30 साल की उम्र में 1,000 रुपये जमा करते हैं और उस पर 8 फीसदी की दर से रिटर्न मिलता है तो 60 साल उम्र पूरी होने पर आपको 12.23 लाख रुपये मिलेंगे. इसी तरह अगर आप 35 साल की उम्र में 1000 रुपये जमा करते हैं और इस पर भी आपको 8 फीसदी की दर से ब्याज मिलता है तो 60 साल की उम्र पूरी होने के बाद आपको केवल 7.89 लाख रुपये मिलेंगे. यानी आप जितनी कम उम्र में शुरू करेंगे, आपको उतना ही फायदा होगा.