Air India का ऐलान, खाड़ी देशों में फंसे भारतीयों को निकालने के लिए ओमान-UAE से चलेंगी फ्लाइट्स

Air India Flight Schedule: दुनिया भर में कोरोना वायरस महामारी के चलते लॉकडाउन में फंसे भारतीयों को निकालने के लिए भारत सरकार वंदे भारत मिशन चला रही है. इसी कड़ी में खाड़ी देखों में फंसे भारतियों को वापस लाने के लिए एयर इंडिया ने ऐलान किया है.

Air India ने 10 से 16 जुलाई 2020 के बीच ओमान (Oman) से भारत के लिए फ्लाइटें चलाने का ऐलान किया है. ये फ्लाइटें भारत में नई दिल्ली, अहमदाबाद, बेंगलुरू, श्रीनगर और लखनऊ के लिए चलेंगी. वहीं 11 से 14 जुलाई तक दुबई और शारजाह से भारत के लिए पांच फ्लाइट्स उड़ान भरेंगी.

इन रूट्स पर चलेंगी फ्लाइट्स

दुबई से एक और शारजाह से चार फ्लाइटें चलाई जाएंगी. इनमें 11 जुलाई को दुबई से दिल्ली, 12 जुलाई को शारजाह से इंदौर, 12 जुलाई को शारजाह से श्रीनगर, 13 जुलाई को शारजाह से चंडीगढ़ और 14 जुलाई को शारजाह से अहमदाबाद के लिए फ्लाइट्स का संचालन होगा.

वहीं ओमान से भारत के लिए 10 से 16 जुलाई तक फ्लाइट्स का संचालन होगा. 10 जुलाई को मस्कट से दिल्ली, 12 जुलाई को मस्कट से अहमदाबाद, 13 जुलाई को मस्कट से बेंगलुरु, 14 जुलाई को मस्कट से श्रीनगर और 14 जुलाई को मस्कट से लखनऊ के लिए उड़ानों का संचालन होगा.

15 जुलाई से डोमेस्टिक रूट्स पर बढ़ेंगी फ्लाइट्स

एयर इंडिया ने इसके साथ ही दिल्ली-मुंबई रूट पर अतिरिक्त उड़ानें संचालित करने का फैसला किया है. इसके अलावा दिल्ली-विजयवाड़ा रूट पर गुरुवार और बेंगलुरु-कोलकाता रूट पर सोमवार, गुरुवार और शुक्रवार को अतिरिक्त उड़ानें संचालित करने का भी ऐलान किया है.

खाड़ी देश से आने वालों को पूरी करनी होगी ये शर्त

एयर इंडिया की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक इन फ्लाइटों में वे लोग ही भारत आ सकेंगे जिन्होंने भारतीय दूतावास में खुद को रजिस्टर करा रखा हो. फ्लाइट की बुकिंग करते समय यात्री का पासपोर्ट नम्बर और मोबाइल नम्बर देना जरूरी होगा.

ठप्प पडी है एविएशन इंडस्ट्री

कोरोना वायरस के कारण दुनियाभर में एविएशन इंडस्‍ट्री ठप पड़ी है. खासकर इंटरनेशनल फ्लाइट एकदम नहीं उड़ रही हैं. इस बीच DGCA ने शुक्रवार को एक सर्कुलर जारी कर अंतर्राष्ट्रीय यात्री उड़ानों (International Passenger flights) के उड़ने पर लगी रोक को 15 जुलाई तक के लिए बढ़ा दिया है.

ये भी पढ़ें : अमेरिका ने भारत की तारीफ, कहा- चीन के आक्रामक तेवर पर भारत ने दिया मुंहतोड़ जवाब

यह पाबंदी सभी मालवाहक उड़ानों और DGCA द्वारा विशेष रूप से जरूरी सर्विस पर लागू नहीं होगी. सर्कुलर में कहा गया है कि फैसला हुआ है कि भारत आने वाली-जाने वाली अंतरराष्ट्रीय वाणिज्यिक यात्री सेवा 15 जुलाई 2020 की रात 11:59 बजे तक नहीं उड़ेंगी. इससे पहले 20 जून को केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा था कि अंतरराष्ट्रीय उड़ान सेवाओं का फिर से शुरू होना दूसरे देश की इजाजत पर निर्भर करेगा.